Web
Analytics
दिल्ली:"शनि शत्रु नहीं मित्र हैं"शनि जयंती पर दांती महाराज ने दिया शनिदेव की कृप्या पाने का मन्त्र। | Aapki Chopal

दिल्ली:”शनि शत्रु नहीं मित्र हैं”शनि जयंती पर दांती महाराज ने दिया शनिदेव की कृप्या पाने का मन्त्र।

 

देशभर में रही शनि जन्मोत्सव की धूम ,

 

क्या आपको डर है कि शनिदेव आपसे रुष्ट हैं। 

 
क्या आपको लगता हैं कि आपके काम बनते बनते रह जाते हैं ?
 
तो जानिए  

देशभर में रही शनि जन्मोत्सव की धूम ,बात अगर राजधानी दिल्ली की करी जाएं तो दिल्ली के छत्तरपुर पुर स्थित शनि धाम में दांती महाराज ने शनि देव का अभिषेक कर पूजन किया शनि जयंती पर गजासीन शनिदेव का दरवार मनमोहक विधुत सज्जा एवं फूलों और लताओं से सजाया गया दांती महाराज ने 56 भोगों से शनिदेव को भोग लगाया। और दांती महाराज ने श्रद्धालुओं को यह मन्त्र भी बताया कि अगर आप अपने माता पिता की सेवा नहीं कर सकते तो यहाँ कितनी भी पूजा कर लो कोई फायदा नहीं क्योकि शनि हमेशा कर्मो के हिसाब से फल देता हैं न की चढ़ावे से। इसलिए अपने माता पिता की सेवा अवश्य आकर। 

हालांकि गुरुवार सुबह से ही मंदिर में भक्तों का ताँता लगा हुआ था लेकिन संध्या होते ही शनि देव के दरबार में भक्तों का हुजूम लग गया। बड़ी संख्या में मंदिर पहुंचे लोगों ने शनि देव की पूजा अर्चना कर ग्रह शांति के लिए प्रार्थना की साथ ही लोगो का भी मानना हैं कि शनिदेव कर्मो के हिसाब से ही फल देते हैं।
शनि बाबा के दरबार में मशहूर गायकों ने भजन गाकर अपनी हाज़री लगाई ,दांती महाराज ने यह भी सन्देश दिया की बेटी पढ़ाओ बेटी बढ़ाओ क्योंकि बिना बेटी इस संसार का कोई महत्व नहीं हैं और दांती महाराज पिछले 22 सालो से इस अभियान से जुड़े हुए हैं।
दांती महाराज ने शनिजन्मोतस्व पर आये हुए सभी श्रद्धालुओं को स्वयं प्रसाद वितरण किया । भक्त जनो के लिए विशाल भंडारे का आयोजन भी किया गया। दांती महाराज ने  बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का भी लोगो को सन्देश दिया साथ ही कहा करें इस मन्त्र को माता पिता की सेवा कर रहे सभी दुःखो से दूर। \
स्पेशल डेस्क आपकी चौपाल न्यूज़ दिल्ली 

COMMENTS

error: Content is protected !!