बैंकों के कर्जे के नोटिस से भड़के किसानों ने बैंक कर्मचारियों को लगाई लताड़

पंजाब सरकार जहाँ किसानों का कर्ज़ माफ़ करने की बात कर रही है वहीं बैंकों के कर्मचारी किसानों के घर-घर जाकर क़र्ज़े का नोटिस पकड़ा रही है, किसानों में बैंक और बैंक के कर्मचारियों के प्रति रोष है क्योंकि अभी तक किसानों के न तो फसल की बोली लगी है नाही उन्हें आढतियों से पैसा मिला है ऊपर से कर्ज माफ़ होने के एलान के बाद भी बैंक उन्हें लाखों रूपए  का नोटिस थमा रहे है!
 
ऐसा ही एक मामला फ़िरोज़पुर की मैहमा गाँव का सामने आया जहाँ सहकारी बैंक के कर्मचारी किसानों के घर नोटिस लेकर पहुँचे तो गाँव के लोगों ने उन्हें गुरुद्वारा साहिब में इकठ्ठा किया जिसके बाद किसानों और कर्मचारियों में तू-तू मैं-मैं होने के बाद आख़िरकार बैंक के कर्मचारियों को वहाँ से जाना पड़ा, बता दे कि बैंक कर्मचारी अपने साथ पुलिस भी लेकर गए थे मगर किसानों के साथ उलझने के बाद बैंक कर्मचारियों को वहाँ से रुखसत होना पड़ा! 
 
दूसरी तरफ़ किसानों का कहना है कि के किसान अभी अपनी फ़सल लेकर मंडियों में बैठे हैं और बैंक के अधिकारी उनके घर जाकर नोटिस थमा रहे हैं वहीं किसानों का यह भी कहना है कि इस मौक़े पर किसानों के पास फूटी कौड़ी भी नहीं है और बैंकों के कर्मचारी उनको लाखों के नोटिस दे रहे हैं! 
 
उधर इस मामले को लेकर बैंक के कर्मचारी थाना पहुँचे और किसानों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज करवाया, पुलिस का कहना है कि बैंक के कर्मचारियों ने गाँव मैह्मा में हुई घटना के सन्दर्भ में रिपोर्ट दर्ज करवाई है जिसपर  जाँच कर आगे की कार्रवाई जाएगी!
पंकज कुमार, फिरोजपुर,टीम आपकी चौपाल न्यूज़! 

COMMENTS

error: Content is protected !!