Web
Analytics
स्कूली बच्चों की चीख पुकार से दहली दिल्ली | Aapki Chopal

स्कूली बच्चों की चीख पुकार से दहली दिल्ली

देश राजधानी में आज एक बार फिर दिखा रफ़्तार का कहर, नार्थ वेस्ट दिल्ली के कन्हैया नगर में आज सुबह स्कूल वैन और दूध के टैंकर में जबरदस्त टक्कर, यू टर्न लेते हुए हुआ हादसा,  टक्कर इतनी तेज़ थी की बच्चों से भरी स्कूल वैन पलट गयी,इस एक्सीडेंट में एक दर्जन से ज्यादा स्कूली बच्चे घायल हो गए है जिनमें तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है और एक बच्ची की इलाज के दौरान मौत  हो गई हैं  घायलों को पास के दीपचंद बंधू अस्पताल में कराया गया भर्ती,फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है और घायल बच्चो का इलाज जारी है!
इस स्कूल वैन की हालत देखकर ही समझा जा सकता है की इसमें सवार बच्चों की क्या हालत होगी, आज सुबह इस स्कूल वैन को दूध के इस टैंकर ने कन्हैया नगर मेट्रो स्टेशन पर उस समय टक्कर मार दिया जब यह यूं टर्न ले रही थी, इस वेन में स्कूली बच्चे सवार थे जैसे ही यह हादसा हुआ बच्चों की चीख पुकार मच गयी, यह टक्कर बेहद खौफनाक जिसकी चीख पुकार सुनकर आस पास के लोग मदद को आये कुछ लोगों ने पुलिस और कैट्स का इंतजार किये बिना खुद ही बच्चों को अस्पाला पहुँचाया, इतनी संख्या में घायल बच्चों को देख अस्पताल में भी अफरातफरी मच गयी, गंभीर रूप से घायल बच्चों को ऑटो वाले और कुछ को पुलिस की गाडी अस्पताल लेकर अस्पताल पहुंची, बच्चे दहशत में थे और कुछ बेसुध भी क्योंकि हादसा था ही इतना जबरदस्त!
इस घटना में एक दर्जन से ज्यादा बच्चे घायल हो गए जबकि केन्द्रीय विद्यालय की थर्ड क्लास की बच्ची की इलाज के दौरान मौत हो गई हैं ,चश्मदीदों का कहना है की स्कूल वैन में तो क्षमता से ज्यादा बच्चे थे साथ ही दूध के इस टैंकर की रफ़्तार भी बेहद जायदा तेज़ बताई जा रही है, इसके अलावा मेट्रो स्टेशन के आस पास अतिक्रमण और अवैध पार्किंग भी इस हादसे की वजह बनी है, लोगों में इस हादसे के बाद से पुलिस व प्रशासन को लेकर बेहद गुस्सा है!
इस घटना की जानकारी मिलते ही अभिभावकों में अफरातफरी मच गयी, इस वैन में करीब 18 बच्चें सवार थे जिन्हें गंभीर चोंटे भी आई है, इनमें कुछ बच्चे केशवपुरम संतगर स्कूल और कुछ बच्चे पास के सरकारी स्कूल के थे, ये वैन वज़ीर पुर जे जे कॉलोनी से बच्चे लेकर आ रही थी, इनमें  चार बच्चों की हालत बेहद गंभीर है इन्हे ट्रामा सेंटर रेफेर किया गया है, दिल्ली की सड़कों पर ऐसी सैकड़ो प्राइवेट स्कूल वेन ट्रैफिक के तमाम नियम व कानूनो की धज्जियाँ उड़ाकर सड़को पर सरपट दौड़ रही हैं और छोटे छोटे स्कूली बच्चों और राहगीरों की जान से खिलवाड़ कर रहीं हैं!
बरहाल पुलिस ने टैंकर ओर वेन दोनों को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है लेकिन इस घटना ने एक बार फिर साफ़ कर कर दिया है कि लाख सख्ती और कानून के बावजूद भी क्षमता से ज्यादा और नियमों को ताक पर रखकर स्कूली बच्चों के जीवन से खिलवाड़ करने वाले इस तरह की प्राइवेट और अवैध स्कूल वैन पर प्रशासन न जाने क्यों आँखे मूंदे बैठा रहता है और किसी बड़े हादसे के बाद भी स्थिति आखिर क्यों नही सुधरती!
स्पेशल डेस्क,आपकी चौपाल न्यूज़,दिल्ली! 

COMMENTS

error: Content is protected !!