अफगानिस्तान में 7 भारतीय इंजीनियर का अपहरण,

काबुल: अफगानिस्तान में 7 भारतीय इंजीनियर को अगवा कर लिया गया है. ये सभी इंजीनियर एक पावर प्लांट में काम करते हैं. इनके साथ ही एक अफगान को भी किडनैप किया गया है. अपहरण की ये वारदात अफगानिस्तान के उत्तरी बग़लान प्रांत में हुई है. अब तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है.

बग़लान पुलिस के प्रवक्ता जबीउल्लाह का कहना है कि ये सभी इंजीनियर एक मिनी बस में सवार होकर सरकारी पावर प्लांट में जा रहे थे तभी अज्ञात बंदूकधारियों ने बस ड्राइवर के साथ इन्हें अगवा कर लिया.

रॉयटर्स के मुताबिक काबुल स्थित भारतीय दूतावास में तैनात दो भारतीय अधिकारियों ने भी इस अपहरण की पुष्टि की है. ये सभी इंजीनियर द अफगानिस्तान ब्रेशना शेरकट के लिए काम करते हैं. ये कंपनी पावर स्टेशन बनाने का काम करती है.

भारतीय दूतावास के एक सीनियर अधिकारी का कहना है कि अफगानिस्तान में 150 से ज्यादा इंजीनियर और टेक्निकल एक्सपर्ट देश के इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े प्रोजेक्ट में काम करते हैं.

एक अधिकारी का कहना है कि वो सभी इंजीनियर की सुरक्षित रिहाई के काम पर लगे हुए हैं. अब तक ये पता नहीं चल पाया है कि इन इंजीनियर की किडनैपिंग में किस संगठन का हाथ है और ये भी पता नहीं चल पाया है कि क्या रिहाई के बदले फिरौती की रकम मांगी गई है.

अफगानिस्तान में स्थानीय तौर पर फिरौती के लिए अपहरण एक आम बात है. गरीबी और बढ़ती बेरोजगारी ने इसे और ज्यादा बढ़ावा दिया है. साल 2016 में भी एक भारतीय सहायताकर्मी का अपहरण कर लिया गया था. 40 दिन बाद उसकी रिहाई हो पाई थी.

COMMENTS

error: Content is protected !!