पंजाबः ब्यास दरिया में, जहरीले पानी से हजारों मछलियां मरी,

पंजाबः ब्यास दरिया में, जहरीले पानी से हजारों मछलियां मरी,

पंजाब के ब्यास दरिया में जहरीले पानी की वजह से हजारों मछलियों के मारे जाने की खबर से, प्रदेश भर में सनसनी फैल गई है। वीरवार को सुबह के समय से ही दरिया ब्यास में किनारे पर मरी और तड़पती मछलियां नजर आईं। इसके बाद तो दरिया में जलचरों के मरने की संख्या हजारों में पहुंच गई।
जिला कपूरथला के मंड एरिया में लगते दरिया ब्यास के एरिया की जांच को लेकर जिला प्रशासन सतर्क हो गया हैं। वहीं डीसी ने एडवाइजरी जारी करते हुए इन मछलियों का सेवन न करने की अपील की है। वीरवार को सुबह अचानक दरिया ब्यास के किनारे मरी मछलियों को लोगों ने देखा।

आसपास के लोगों का कहना है कि दरिया में किसी फैक्टरी ने जहरीला रसायन फेंका है। बताया जा रहा है कि यह रसायन होशियारपुर से शुरू होकर अमृतसर की ओर बढ़ गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सुबह के समय दरिया किनारे भारी तादाद में मरी मछलियों को लोग बोरी में भरकर ले गए। लेकिन कोई भी जिला प्रशासन का अधिकारी नहीं पहुंचा था।

पंजाब के ब्यास दरिया में जहरीले पानी की वजह से हजारों मछलियों के मारे जाने की खबर से, प्रदेश भर में सनसनी फैल गई है। वीरवार को सुबह के समय से ही दरिया ब्यास में, किनारे पर मरी और तड़पती मछलियां नजर आईं। इसके बाद तो दरिया में जलचरों के मरने की संख्या हजारों में पहुंच गई।
जिला कपूरथला के मंड एरिया में लगते दरिया ब्यास के एरिया की जांच को लेकर जिला प्रशासन सतर्क हो गया हैं। वहीं डीसी ने एडवाइजरी जारी करते हुए इन मछलियों का सेवन न करने की अपील की है। वीरवार को सुबह अचानक दरिया ब्यास के किनारे मरी मछलियों को लोगों ने देखा।

आसपास के लोगों का कहना है कि दरिया में किसी फैक्टरी ने जहरीला रसायन फेंका है। बताया जा रहा है कि यह रसायन होशियारपुर से शुरू होकर अमृतसर की ओर बढ़ गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सुबह के समय दरिया किनारे भारी तादाद में मरी मछलियों को लोग बोरी में भरकर ले गए। लेकिन कोई भी जिला प्रशासन का अधिकारी नहीं पहुंचा था।
उधर, दरिया ब्यास में मछलियों के मरने की जांच की मांग पद्मश्री संत बलबीर सिंह सीचेवाल ने उठाई है। उन्होंने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन काहन सिंह पन्नू से मामले में निजी दखल देने की मांग की है।

संत बलबीर सिंह सीचेवाल ने कहा, कि ब्यास दरिया में फैक्ट्रियों का जहरीला पानी डाले जाने कारण बड़े स्तर पर मछलियां मर रही हैं। उन्होंने पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन काहन सिंह पन्नू और बोर्ड के ओर सीनियर आधिकारियों को भी फोन पर पूरी स्थिति से अवगत करवाया है।

डीसी कपूरथला मोहम्मद तैय्यब ने कहा, कि दरिया ब्यास में मछलियां मरी हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है, कि वह इन मछलियों का सेवन न करें और न ही दरिया ब्यास में नहाएं, क्योंकि जिस रसायन की वजह से मछलियां मरी हैं, इसकी जांच कराई जा रही है। इसलिए इन मछलियों के सेवन से नुकसान हो सकता है।

COMMENTS

error: Content is protected !!