पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपित नीरव मोदी अब बेल्जियम भागा

पीएनबी घोटाला मामले के मुख्य आरोपित नीरव मोदी के बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स भाग जाने की खबर है, सोमवार को सीबीआई ने इंटरपोल से नीरव मोदी और उसके भाई निशाल मोदी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की मांग की थी, कहा जा रहा है कि इसके बाद मंगलवार या बुधवार को नीरव मोदी हवाई यात्रा के जरिये ब्रसेल्स भाग गया, उसने ऐसा इसलिए किया क्योंकि मीडिया में खबर आ गई थी कि वह लंदन में राजनीतिक शरण लेना चाहता है और भारतीय उच्चायोग ब्रिटेन सरकार से औपचारिक तौर पर उसके देश में मौजूद होने की पुष्टि का इंतजार कर रही है,
हीरा कारोबारी भारत के सबसे बड़े बैंक घोटाले मामले में वांछित है, कहा जा रहा है कि वह भारतीय नहीं बल्कि सिंगापुर के पासपोर्ट पर ब्रिटेन में बड़ी आसानी से आ और जा रहा है, सोमवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने नीरव मोदी और उसके भाई निशाल के साथ ही उसकी कंपनी के एक कार्यकारी सुभाष परब के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी कराने के लिए इंटरपोल से संपर्क साधा है, सूत्रों के अनुसार, केंद्रीय एजेंसी बेल्जियम के नागरिक निशाल के खिलाफ पंजाब नेशनल बैंक से दो बिलियन डॉलर की धोखाधड़ी के मामले में यह नोटिस जारी कराना चाहती है,
इससे पहले, सीबीआई ने इसी मामले में सोमवार को नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस के लिए इंटरपोल से संपर्क साधा था, इस नोटिस में इंटरपोल अपने सदस्य देशों से वांछित आरोपी को हिरासत में लेने अथवा गिरफ्तार करने का अनुरोध करता है, सीबीआई ने मुंबई की विशेष अदालत में इस मामले में चार्जशीट दायर कर दी है, यह देश का सबसे बड़ा बैंक धोखाधड़ी का मामला है, मंगलवार को मुंबई की एक विशेष अदालत ने नीरव और उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था,
सीबीआई ने मोदी, चोकसी और निशाल के खिलाफ 15 फरवरी को इंटरपोल के जरिये डिफ्यूजन नोटिस भी जारी किया था, यह नोटिस ऐसा तंत्र होता है जिसमें इंटरपोल के सदस्य देश भगोड़े आरोपी के छिपने वाली जगह की जानकारी साझा करते हैं, इसी नोटिस के तहत ब्रिटेन ने मोदी और अन्य भगोड़ों की गतिविधियों की सूचनाएं साझा की हैं, हालांकि सूत्रों ने साफ किया है कि उनके पास उसके खास ठिकानों की सूचना नहीं है, वहीं भारत सरकार के एक सूत्र का कहना है कि मंगलवार या बुधवार को नीरव ब्रसेल्स रवाना हो गया है,

COMMENTS

error: Content is protected !!