Web
Analytics
भारत जन स्‍वास्‍थ्‍य के सभी लक्ष्‍यों तक पहुंचने के लिए प्रतिबद्ध : जे पी नड्डा | Aapki Chopal

भारत जन स्‍वास्‍थ्‍य के सभी लक्ष्‍यों तक पहुंचने के लिए प्रतिबद्ध : जे पी नड्डा

भारत जन स्‍वास्‍थ्‍य के सभी लक्ष्‍यों तक पहुंचने के लिए प्रतिबद्ध : जे पी नड्डा

औषधीय उत्‍पादों तक पहुंच पर आधारित दूसरे विश्‍व सम्‍मेलन का शुभारंभ करते हुए स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री श्री जे.पी. नड्डा ने कहा कि भारत जन स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी सभी लक्ष्‍यों तक पहुंचने के‍ लिए राष्‍ट्रीय और वैश्विक रूप में पूरी तरह प्रतिबद्ध है, श्री नड्डा ने कहा कि हम एक साथ मिलकर अपने नागरिकों के लिए हर संभव स्‍वास्‍थ्‍य सुविधा उपलब्‍ध कराने के लिए कार्यरत हैं उन्‍होंने कहा कि व्‍यापक स्‍वास्‍थ्‍य सुविधा को सतत विकास लक्ष्‍य 2030 के एजेंडे में प्रमुखता से शामिल किया गया है।

इस कार्यक्रम में जे.पी. नड्डा ने स्थिति पत्र का विमोचन किया और सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस्‍ड कम्‍प्‍यूटिंग द्वारा विकसित दक्षिण-पूर्व एशिया नियामक नेटवर्क (एसईएआरएन) के लिए एक सूचना साझा मंच का शुभारंभ किया, जिससे दक्षिण-पूर्व एशियाई क्षेत्र के देशों के बीच नियामक और स्‍वास्‍थ्‍य सहयोग को बढ़ावा मिलेगा,स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल, सचिव (स्‍वास्‍थ्‍य) श्रीमती प्रीति सूदन, स्‍वास्‍थ्‍य एवं अनुसंधान विभाग में सचिव और आईसीएमआर महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव, विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन जेनेवा में ड्रग्‍स एक्‍सेस, वेक्‍सीन और फार्मास्‍यूटिकल सहायक महानिदेशक डॉ. मेरिएंजेला बतिस्‍ता गलवाओसीमाओ, विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन एसईएआरओ क्षेत्रीय निदेशक डॉ. पूनम खेत्रपाल सिंह, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय में अपर सचिव डॉ. आर के वत्‍स और भारत में विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के प्रतिनिधि डॉ. हेंकबेकेडम भी इस अवसर पर उपस्थित थे,कार्यक्रम में देश के कई राज्‍यों के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री तथा प्रधान सचिव भी उपस्थित थे।

अपने भाषण में नड्डा ने कहा कि राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य नीति देश के लिए स्‍वास्‍थ्‍य के सर्वश्रेष्‍ठ मानदंडों को समर्पित है उन्‍होंने कहा कि सरकार ने आयुष्‍मान भारत नामक एक राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य संरक्षण योजना शुरू की है, जिसमें प्रति परिवार प्रति वर्ष 5 लाख रूपये के स्‍वास्‍थ्‍य बीमा का प्रावधान है, इससे 50 करोड़ से भी अधिक लोग लाभान्वित होंगे। यह विश्‍व की सबसे बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य बीमा योजना है, उन्‍होंने कहा कि 23 सितम्‍बर, 2018 को इसकी शुरूआत के बाद से इस योजना के तहत सेवाएं उपलब्‍ध होने से 50,000 व्‍यक्ति लाभान्वित हुए।

स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने स्‍वास्‍थ्‍य लक्ष्‍यों तक पहुंचने में पारंपरिक चिकित्‍सा प्रणाली के महत्‍व के बारे में चर्चा की, वहीं, स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने कहा कि सतत विकास लक्ष्‍य सबके बेहतर भविष्‍य के लिए मंत्र है और औषधियों तक पहुंच कायम करना इसका महत्‍वपूर्ण तथ्‍य है।

COMMENTS

error: Content is protected !!