Web
Analytics
नरेला : श्री राम बारात में झूमे भक्तजन | Aapki Chopal

नरेला : श्री राम बारात में झूमे भक्तजन

भगवान श्रीराम की आरती और हनुमान चालीसा के साथ की गई वन्दना , गाजे बाजे और धूम धड़ाके से निकलती बारात , भक्ति और राम विवाह की मस्ती में नाचते भक्तजन , यह नजारा है दिल्ली के नरेला में सुभाष रामलीला क्लब द्वारा आयोजित कि जा रही रामलीला का , शनिवार के आयोजन में भगवान श्रीराम और सीता जी के विवाह का सुंदर और मनोहर मंचन किया गया, देखिये किस तरह से भक्तजन बाजे गाजे के साथ आ रही राम बारात की मस्ती में चूर होकर झूम रहे हैं, जनकपुरी में भी भगवान राम का भव्य स्वागत किया जाता है, भगवान श्रीराम और माता सीता के मिलन की बेला ने तो सबका मन ही मोह लिया है, पांडाल में बैठे हजारों दर्शक भगवान श्री राम और माता सीता के पावन विवाह के साक्षी बने।

आजादी के वर्ष उन्नीसों सैंतालिस से लगातार दिल्ली में हो रहे इस रामलीला के आयोजन का दायित्व सुभाष रामलीला ड्रामेटिक क्लब ने सम्भाल रखा है, अपने बुजुर्गों को रामलीला मंचन करते देख अब अगली पीढ़ी ने भी इस कमान को सम्भाल लिया है, आधुनिकता और भागदौड़ के इस दौर भी भारत वर्ष के इतिहास और परम्परा को जिन्दा रखने और नई पीढ़ी को भी इसके महत्त्व से अवगत कराने की जिम्मेदारी सुभाष रामलीला क्लब बखूभी निभा रहा है, तड़क भड़क और अशलीलता से परे हटकर महंगाई और व्यस्तता के इस दौर में क्लब के सभी सदस्य रामलीला मंचन के लिए पूर्णतः समर्पित नजर आते हैं, सुभाष रामलीला कमेटी का हर बार प्रयास रहता है कि रामलीला मंचन द्वारा भगवान श्रीराम की लीला और इसमें शामिल सभी किरदारों के आदर्श और सन्देश अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाया जाएँ ।
रामलीला मंचन सिर्फ एक मनोरंजन का साधन ही नही अपितू श्रीराम के आदर्श व्यक्तित्व , माता सीता का पतिव्रत , लक्ष्मण का भाई के प्रति प्रेम , हनुमान जी की भक्ति , सुग्रीव और श्रीराम की दोस्ती तथा रावण का ज्ञान और अहंकार जैसे सन्देशों को आज की पीढ़ी के सामने पेश करने तथा उन्हें इनके महत्त्व से अवगत कराने का जरिया हैं , धार्मिक संस्थाओं द्वारा भारत के इस पारम्परिक आयोजन को बनाये रखना भी किसी चुनोती से कम नही  है  |

स्पेशल डेस्क आपकी चौपाल न्यूज़ दिल्ली

COMMENTS

error: Content is protected !!