Web
Analytics
बदमाशों ने मंगोलपुरी में एक दुकानदार को सिर में मारी गोली | Aapki Chopal

बदमाशों ने मंगोलपुरी में एक दुकानदार को सिर में मारी गोली

राजधानी दिल्ली अब क्राइम केपिटल भी बन चुकी है,यहाँ लूट,हत्या,रेप जैसी वारदातों के साथ साथ गोलियाँ चलना तो जैसे आम बात हो गईं है,रविवार सुबह बदमाशो ने मंगोल पूरी में एक दुकानदार को सिर में गोली मार दी और फरार हो गए,अस्पताल में बेड पर खून से लथपथ घायल पड़े इस शक्श का नाम सत्य नारायण है जोकि मंगोल पूरी इलाके में परिवार के साथ रहते है और किराने की एक दुकान चलाते है,घायल ने बताया कि आज सुबह वो घर के नीचे बनी अपनी दुकान पर बैठे थे कि तभी 2 युवक बाइक पर आए और उनमें से एक युवक जिसका नाम मोनू वो बाइक से नीचे उतरा और गोली मारकर फरार हो गया जिसके बाद आसपास और परिवार के लोग घायल दुकानदार को मंगोल स्थित संजय गांधी अस्पताल में ले गए गया उनका इलाज जारी है।


गोली मारने की ये घटना पास में लगे सीसीटीवी में कैद हो गयी है, देखिए कैसे ये दो लोग बाइक पर आते हैं और पीछे वाला युवक उतरते ही हाथ मे बंदूक लिए दुकान में जाता है और गोली मारते ही बाहर आकर बाइक पर बैठ फरार हो जाता है,प्राप्त जानकारी के अनुसार वारदात का मुख्य आरोपी मोनू भी मंगोलपुरी का ही रहने वाला है और आपराधिक छवि वाला है।
घायल दुकानदार के अनुसार आरोपी के परिवार के सदस्यों पर पहले से ही कई आपराधिक मुकदमे चल रहे हैं और बीती 30 सितंबर को आरोपी मोनू का दुकानदार से गुटखा लेने को लेकर विवाद हो गया था जिसके बाद आरोपी पक्ष ने दुकानदार ओर उसके बेटे के साथ मारपीट की ओर देख लेने और गोली मारने तक कि धमकी दे डाली थी, उस समय दुकानदार ने पुलिस को इन लोगों के खिलाफ लिखित में शिकायत भी दी थी और भविष्य में किसी तरह की अनहोनी होने की प्रबल शंका भी ज़ाहिर की थी और रविवार को आरोपी ने अपनी धमकी को सच मे बदल डाला और दुकानदार पर जानलेवा हमला कर गोली मार दी।
दिनदहाड़े सरेआम हुई इस वारदात के बाद आए आसपास के लोगो मे भी दहशत का माहौल है साथ ही कोई भी व्यक्ति आरोपियों को जानने के बावजूद कुछ भी बोलने या बताने को तैयार नही है क्योंकि उन्हें डर है कि कहीं उनके साथ भी आरोपी या उसके साथी किसी अनहोनी घटना को अंजाम न दे दें, दुकान के बाहर खून के निशान साफ़ देखे जा सकते हैं,घटना का चश्मदीद खुद घायल का सगा भाई है ,बावजूद इसके सब कुछ देख कर भी वो खुद काफी डरा हुआ है।
बरहाल घायल दुकानदार अभी अस्पताल में भर्ती है, जहां उनका इलाज जारी है,उनकी हालत अभी गंभीर बनी हुई है, मंगोल पूरी पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और cctv भी जप्त कर ली है और अब हमलावरों की धरपकड़ के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही है लेकिन अगर समय रहते ही पुलिस पहले झगड़े पर पीड़ित पक्ष की शिकायत पर उचित कार्यवाही करती तो शायद आज ये घटना नही घटती,वही साफ है कि अब अपराधियों में न तो कानून का कोई डर रह गया है और न ही पुलिस का कोई ख़ौफ़।

स्पेशल डेस्क आपकी चौपाल न्यूज़ दिल्ली

COMMENTS

error: Content is protected !!