Web
Analytics
धोखेबाज़ हमदर्द पहुंचा हवालात | Aapki Chopal

धोखेबाज़ हमदर्द पहुंचा हवालात

नरेला थाना क्षेत्र में गत गुरूवार को एक बच्चे का शव रेलवे स्टेशन के नजदीक सूनसान इलाके में मिला, बच्चा बुधवार रात से ही गायब था,शव मिलने के चन्द घंटो के अन्दर ही नरेला थाना पुलिस ने हत्या की गुत्थी सुलझा ली और हत्यारे को धर दबोचा।

बच्चे की हत्या से पहले कुकर्म की भी आशंका जताई जा रही है, नरेला थाना पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 और 363 के तहत मामला दर्ज कर हत्यारे को किया गिरफ्तार कर अपनी कस्टडी में ले लिया,आपको बताते चलें कि बच्चे की हत्या करने वाला हमदर्द बनकर बच्चो को ढुँढ़वाता रहा, जिसने ग्यारह साल के मासूम लड़के की निर्दयता से गला काटकर हत्या कर दी, नरेला थाने के अंतर्गत बांकनेर के रहने वाले आरोपी कर्मवीर के सिर पर तो मानो हवस इतनी हावी हो गयी थी की एक मासूम से दिखने वाले बच्चे का गला रेतते हुए भी उसके हाथ नहीं कांपे। बच्चे के परिजनों का आरोप है की जिस हालत में बच्चे का शव मिला था उसे देख कुकर्म की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता।

आरोपी कर्मवीर की बेशर्मी और शातिरता तो देखिये हत्या करने के बाद यह दरिंदा खुद बच्चे के परिजनों के साथ मिलकर रात भर बच्चे को इधर उधर ढुँढ़वाने का नाटक करता रहा तथा सुबह भी परिजनों को बच्चे का शव वहां पड़े होने की सुचना दी,बच्चे की गुमशुदी का मामला दर्ज करके तलाश कर रही नरेला थाना पुलिस को जब नरेला रेलवे स्टेशन के नजदीक एक बच्चे का शव मिलने की जानकारी मिली तो थाना प्रभारी तुरंत अपनी टीम के साथ वारदात स्थल पर पहुंचे,पुलिस ने तुरंत कार्यवाही करते हुए अपनी टीम इस निर्मम हत्या की गुत्थी सुलझाने में लगा दी,इससे पहले की हत्या का आरोपी कहीं फरार हो पाता ,पुलिस ने सबूत जुटाते हुए उसके खून से सने कपड़े और हत्या में प्रयोग किये गए चाकू को बरामद करके आरोपी कर्मवीर को हिरासत में ले लिया। तथा बच्चे के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया,दिल्ली की नरेला थाना पुलिस ने हत्या की गुत्थी तो चंद घंटों में सुलझा ली मगर समाज में छुपे इस तरह के हैवानों की पहचान आसान नहीं है, कितने ही मामले सामने आये हैं जिनमे हमदर्द ही हत्यारे निकले हैं।

COMMENTS

error: Content is protected !!