Youtube

गुजरात में आनंद जिले के मलातज गांव में उस वक्त एक किसान के पसीने छूट गए जब देर रात उसने अपने बिस्तर के नीचे दो चमकीली आंखे देखी,जब किसान ने लाइट जलाई तो उसके होश उड़ गए,उसके खाट के नीचे एक 8 फुट लंबा मगरमच्छ था। 

इस बारे में किसान बाबुभाई परमार ने बताया कि वह हर दिन की तरह पशुओं को बाड़े में बांधकर घर में आया और खाट पर सो गया, तभी रात में अचानक कुत्ते भौंकने लगे,बाबुभाई को अनहोनी का शक हुआ,उनकी आंख जैसे ही खुली तो उन्होंने खाट के नीचे दो चमकीली आंखें देखीं,यह देख वो बहुत बुरी तरह डर गए ,किसी तरह वो खाट से उतरे और लाइट जलाई,फिर उन्होंने जो देखा उसे देख उनके होश उड़ गए उन्होंने देखा कि 8 फुट लंबा मगरमच्छ उनकी खाट के नीचे है,इसके बाद आनफानन में उन्होंने गांव वालों की इकठ्ठा किया और वन विभाग को जानकारी दी, बताया जा रहा हैं कि यह मगरमच्छ किसान के घर देर रात उस वक्त घुसा जब वो गहरी नींद में सो रहे थे,यह भी बताया जा रहा है कि मगरमच्छ मलातज गांव से 500 मीटर दूर स्थित एक तालाब से आया था जिसे पकड़कर वापस तालाब में छोड़ दिया गया। 
 
वन विभाग के अधिकारी और दया फाउंडेशन के सदस्य मौके पर पहुंचे तो उन्होंने मगरमच्छ को पकड़ने के लिए जाल डाला लेकिन मगरमच्छ जगह से हिला तक नहीं, इस बारे में दया फाउंडेशन के नितेश चौहान ने बताया कि जब हम मौके पर पहुंचे तो पाया कि मगरमच्छ एक जगह से हिल नहीं रहा है,जब हमने ध्यान से देखा तो मगरमच्छ प्रेग्नेंट थी और अंडे देने वाली थी,इसके बाद हमने सावधानी पूर्वक मगरमच्छ को जाल में डाला और वापस तालाब में छोड़ा,बताया जाता हैं कि यह गांव देश भर में मगरमच्छों के लिए मशहूर है,यहां के तालाब में 200 से ज्यादा मगरमच्छ रहते हैं और यहां गांव के लोग इनकी पूजा भी करते हैं। बहराल इस मगरमच्छ ने किसी को हानि नहीं पहुंचाई और सावधानी पूर्वक मगरमच्छ को जाल में डाल कर वापस तालाब में छोड़ दिया गया हैं। 

COMMENTS

error: Content is protected !!